bewafa dost hindi shayari

Bewafa Hindi Dost Shayri

रह ही जाएगी कोई न कोई कमी-बिन मेरे
तुम जितनी मर्जी ज़िंदगी को “सँवार” लेना..

सिर्फ दिखावे के लिए अच्छा बनना,
शायद बुरा होने से भी बुरा है..

shayari about friends

एक ही हसरत रही दिल में-“सारी जिन्दगी”,
काश की अपनों में कोई तो अपना होता..

अब तेरी बातें-आँखें भिगोने लगी है,
काश तुम “अजनबी” ही रहते-तो अच्छा था..

दिल से कहा सौ बार-कि “भूल जा” उसको,
हर बार दिल कहता है कि-तुम दिल से नही कहते..

shayari about dosti

जवाब तो तेरे हर सवाल का था,
लाजवाब तो मुझे तेरा “लहजा” कर गया..

मेरी फ़ितरत में नही-उन परिंदो को क़ैद करना,
जो मेरे पिंजरे में रह कर-दूसरो के साथ उडना पसंद करते है..

(1) very sad shayari hindi (2) bewafa dost shayari (3) bewafa dost hindi shayari (4) heart touch shayari in hindi (5) romantic shayari hindi mai (6) hindi sad quote (7) tea shayari in hindi (8) love shayari hindi me (9) two lines hindi shayari

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *